खड़े होकर पानी क्यों नहीं पीना चाहिए?

नुकसान

दोस्तों आज हम आपको बताएँगे कि खड़े होकर पानी पीने से हमारे शरीर को किन नुकसानों का सामना भविष्य में करना पड़ सकता है?

हानिकारक

आमतौर पर काफी लोगों की यह आदत होती है तथा अधिकतर लोग जल्दी के चक्कर में खड़े होकर पानी पीते हैं जो कि काफी हानिकारक हो सकता है।

जुकाम

खड़े होकर पानी पीना फेफड़ों और हृदय के काम करने की गति में बाधा पहुंचाता है जिससे कई बार अचानक ही हमें जुकाम से पीड़ित होना पड़ता है।

बदहज़मी

खड़े होकर तेज़ी से पानी पीने से नसें तनावग्रस्त हो जाती हैं जिससे तरल पदार्थ का संतुलन बिगड़ जाता है और टॉक्सिन्स व बदहज़मी बढ़ती है।

गुर्दे

खड़े होकर पानी पीने से हमारे पेट से सीधा पानी मूत्राशय में जमा हो जाता है जो गुर्दे की कार्यप्रणाली को बहुत ही ज्यादा नुकसान पहुँचाता है।

गठिया

खड़े होकर जल पीने से जोड़ों में तरल पदार्थ जमा हो जाता है जिससे गठिया होने के आसर बहुत अधिक मात्रा में बढ़ जाते हैं।

जोड़ों का दर्द

ऐसा कहा जाता है कि जो व्यक्ति अपनी युवावस्था में ज्यादातर खड़े होकर पानी पीता है उसे आने वाले समय में जोड़ों के दर्द का सामना करना पड़ता है।

समस्या

कई लोगों की यह समस्या होती है कि जितना पानी पीते हैं उतनी बार शौचालय जाना पड़ता है ऐसे में बैठकर पानी पीना इस समस्या से छुटकारा दिला सकता है।

पारिवारिक संबंध सुधारने के लिए वास्तु उपाय