शनि जयंती वाले दिन न करें ये काम

वैदिक पंचांग

वैदिक पंचांग

वैदिक पंचांग के अनुसार वैसाख माह की अमावस्या के दिन शनि जयंती का पर्व मनाया जाता है।

अंग्रेजी पंचांग

अंग्रेजी पंचांग

अंग्रेजी पंचांग के मुताबिक शनि जयंती 8 मई 2024 बुधवार के दिन मनाई जाएगी।

साढ़ेसाती के दुष्प्रभाव

साढ़ेसाती के दुष्प्रभाव

शनि देव जी की जयंती वाले दिन भगवान शनि देव जी की पूजा करने से साढ़ेसाती के दुष्प्रभावों से मुक्ति मिलती है।

तांबे का बर्तन

तांबे का बर्तन

लोक कथाओं के तहत शनि जयंती के दिन भगवान शनि देव जी की पूजा में कभी भी तांबे के बर्तनों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

पूजा करते समय

पूजा करते समय

शनि जयंती के दिन भगवान शनि देव जी की पूजा करते समय कभी भी मूर्ति के ठीक सामने खड़ा तथा उनकी आँखों में नहीं देखना चाहिए।

पश्चिम दिशा

पश्चिम दिशा

शनि जयंती वाले दिन भगवान शनि देव जी की पूजा करते समय अपना मुख पश्चिम दिशा की तरफ रखना चाहिए।

नमक, लोहा, तेल

धार्मिक मान्यताओं के हिसाब से शनि जयंती के दिन नमक, लोहा और तेल न ही खरीदना चाहिए तथा न ही दान करना चाहिए।

पशु-पक्षी

पशु-पक्षी

पौराणिक कथाओं के आधार पर शनि जयंती वाले दिन किसी भी पशु-पक्षी या जीव को नहीं सताना चाहिए।

मांसाहारी भोजन

मांसाहारी भोजन

हिंदू ग्रंथों के अनुसार शनि जयंती के दिन मांसाहारी भोजन तथा किसी भी नशीले पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए।

शुभ काम से पहले क्यों खाते हैं दही-शक्कर?