Deepak Kumar Saini - B.E. (Civil) - Vastu & Geopathy Expert

पूजा के दीपक को धोएँ या नहीं?

जैसा कि आप जानते हैं हिंदू धर्म में पूजा-पाठ के दौरान दीपक जलाने की परंपरा सदियों से चली आ रही है।

हिंदू धर्म

नियमित रूप से पूजा हो या कोई विशेष धार्मिक अनुष्ठान बिना दीपक जलाए पूर्ण नहीं माना जाता है।

पूजा में दीपक

पूजा में दीपक

कई लोग नियमित रूप से पूजा में नया दीपक जलाते हैं वहीँ कुछ घरों में रोज एक ही दीया जलाया जाता है, आइए आज हम आपको बताते हैं कि पूजा का दीपक धोना चाहिए या नहीं?

दीपक धोएँ या नहीं

दीपक धोएँ या नहीं

अगर आप पूजा में मिट्टी का दीपक जलाते हैं तो उसे धोकर दोबारा नहीं जलाना चाहिए।

मिट्टी का दीपक

मिट्टी के दीपक में तेल के कारण कालापन आ जाता है और ऐसा मिट्टी का दीपक पूजा में दोबारा इस्तेमाल करना अशुभ माना जाता है।

दीपक में तेल

दीपक में तेल

अगर आप पूजा करते समय मिट्टी का दीपक जलाते हैं तो नियमित रूप से नया मिट्टी का ही दीपक पूजा करते समय जलाना चाहिए।

नया दीपक जलाएँ

अगर आप पूजा में तांबे व पीतल के दीपक जलाते हैं तो इसे धोकर दोबारा इस्तेमाल कर सकते हैं।

अन्य दीपक

पीतल, तांबे, चाँदी या सोने के दीपक को गंगा जल से शुद्ध करके दोबारा से पूजा में बाती लगाकर प्रज्वलित कर सकते हैं।

गंगा जल

Rain Water Harvesting के लिए वास्तु टिप्स