Deepak Kumar Saini - B.E. (Civil) - Vastu & Geopathy Expert

Underground Water Tank के लिए वास्तु टिप्स

दोस्तों आज हम आपको बताएँगे कि हमें अपने किसी भी परिसर में भूमिगत जल टैंक कहाँ बनाना चाहिए व नहीं बनाना चाहिए?

भूमिगत जल टैंक

भूमिगत जल टैंक

वास्तु के अनुसार आप अपने परिसर की उत्तर दिशा में भूमिगत जल टैंक बना सकते हैं।

उत्तर दिशा

उत्तर दिशा

वास्तु के मुताबिक आप अपने परिसर की उत्तर-उत्तर-पूर्व दिशा में भी भूमिगत जल टैंक बना सकते हैं।

उत्तर-उत्तर-पूर्व दिशा

उत्तर-उत्तर-पूर्व दिशा

वास्तु के तहत अपने परिसर की उत्तर-पूर्व दिशा में भूमिगत जल टैंक बनाना सबसे उचित माना जाता है।

उत्तर-पूर्व दिशा

उत्तर-पूर्व दिशा

वास्तु के हिसाब से अपने परिसर की पूर्व-उत्तर-पूर्व दिशा में भी भूमिगत जल टैंक बना सकते हैं।

पूर्व-उत्तर-पूर्व दिशा

पूर्व-उत्तर-पूर्व दिशा

वास्तु के अकॉर्डिंग आप अपने परिसर की पूर्व दिशा में भी भूमिगत जल टैंक बना सकते हैं।

पूर्व दिशा

पूर्व दिशा

वास्तु शास्त्र के अनुसार अपने परिसर की उत्तर से पूर्व दिशा को छोड़कर अन्य किसी और दिशा में तथा ब्रह्मस्थान में भूमिगत जल टैंक न बनाएँ।

अन्य दिशाएँ व ब्रह्मस्थान

अगर आपके किसी भी परिसर में भूमिगत जल टैंक गलत दिशाओं में है तो उसको मिट्टी से भरकर उसे बंद कर दें।

मिट्टी से भरकर

मिट्टी से भरकर

अगर मिट्टी से भूमिगत जल टैंक को बंद करना आपके लिए संभव न हो तो अपने नजदीकी वास्तु सलाहकार से सलाह अवश्य लें।

वास्तु सलाहकार

वास्तु सलाहकार

वास्तु के अनुसार पैसों के लिए करें ये वास्तु टिप्स