Deepak Kumar Saini - B.E. (Civil) - Vastu & Geopathy Expert

रोज़ाना सूर्य को अर्घ्य देने के लाभ

दोस्तों क्या आप जानते हैं कि रोज़ाना सुबह भगवान सूर्य को जल चढ़ाने से क्या क्या लाभ होते हैं?

भगवान सूर्य को जल

सनातन धर्म में सूर्य की पूजा एक देवता के रूप में की जाती है और सूर्य को जल अर्पित करना अत्यंत ही शुभ माना जाता है।

अत्यंत शुभ

अत्यंत शुभ

सूर्य को अर्घ्य देते समय ॐ सूर्य देवाय नमः मंत्र का जाप करना चाहिए।

अर्घ्य देते समय मंत्र

सूर्य को जल अर्पित करते समय अपना मुख सूर्य की तरफ अर्थात पूर्व दिशा की ओर रखना चाहिए।

मुख की दिशा

सूर्य देवता को जल के साथ-साथ रोली, चंदन, चीनी और फूल भी अर्पित करना अत्यंत फलदायी माना जाता है।

जल के साथ क्या दें?

सूर्य देव को सिर्फ स्टील, तांबे या पीतल के लोटे से ही जल समर्पित करना चाहिए।

अर्घ्य देने वाला लोटा

अर्घ्य देने वाला लोटा

लोक कथाओं के अनुसार ऐसा कहा जाता है कि सुबह-सुबह सूर्य भगवान को जल देने से विवाह के लिए अच्छे रिश्ते मिलते हैं।

अच्छे रिश्ते

रोज़ाना सुबह-सुबह स्नान कर के सूर्य को जल देने से व्यक्ति के मान-सम्मान में अत्यधिक वृद्धि होती है।

मान-सम्मान

रोज सूर्य को अर्घ देने से व्यक्ति हमेशा ऊर्जावान रहता है जिससे उससे अपनी रोज की दिनचर्या में थकावट महसूस नहीं होती है।

ऊर्जावान

भगवान सूर्य देव को अर्घ्य देने से व्यक्ति के भाग्य में उन्नति होती है तथा व्यक्ति हमेशा सकारात्मक रहता है।

भाग्य में उन्नति

बसंत पंचमी के दिन क्या काम करने चाहिए?