भगवान को चढ़ाए भोग को कितनी देर बाद खाना चाहिए?

सनातन धर्म में भगवान की पूजा करने के साथ साथ भोग लगाने का बहुत ही अधिक महत्व है।

भगवान का भोग

भगवान का भोग

हिंदू मान्यताओं के अनुसार भगवान की पूजा करने के बाद भगवान को भोग लगाना चाहिए।

पूजा के बाद

पूजा के बाद

अपने घर के मंदिर में भगवान के भोग को सिर्फ 5-10 मिनट ही रखना चाहिए।

5-10 मिनट

5-10 मिनट

भगवान को भोग लगाते समय यह ध्यान रखें कि भगवान के बनाए हुए भोग को किसी बर्तन में ही रखना चाहिए।

बर्तन का इस्तेमाल

बर्तन का इस्तेमाल

घर के मंदिर में भगवान को भोग लगाने के बाद मंदिर का पर्दा लगा देना चाहिए।

मंदिर का पर्दा

मंदिर का पर्दा

घर के मंदिर में भगवान को खट्टा तथा तीखा भोग नहीं लगाना चाहिए सिर्फ मीठा ही भोग लगाना चाहिए तथा साथ में एक पानी का गिलास भी ज़रूर रखना चाहिए।

मीठा भोग

मीठा भोग

घर के मंदिर में भगवान को भोग लगाने के बाद उस भोग को घंटों तक नहीं रखना चाहिए।

घंटों तक न रखें

घंटों तक न रखें

घर के मंदिर में भगवान को लगाए गए भोग को 5 से 10 मिनट बाद घर के सदस्यों में प्रसाद के रूप में बाँट देना चाहिए।

प्रसाद

प्रसाद

वास्तु शास्त्र में 16 दिशाओं के क्या नाम हैं?